Tapkeswari Maataji Mandir, टपकेश्वरी माताजी

Tapkeshwari Mataji Mandir, Nr. Bharapar - BHUJ

Tapkeshwari Mataji Mandir, Nr. Bharapar - BHUJ

भुज से दक्षिण की और ५ माइल दूर भारापर से पास टपकेश्वरी माताजी का मंदिर एक सुन्दर जगह हैं जो कहा जाता है कि ४५० वर्ष पहले यहां कच्छ के तत्कालीन महारावश्री विजयरायजी ने बनवाया था !

मंदिर मे मां टपकेश्वरीजी की प्रतिमा

मंदिर मे मां टपकेश्वरीजी की प्रतिमा

सुना गया है कि उस समय माताजी ने दर्शन दिये थे तब वहा उनकी प्रतिमा के रुप मे स्थापित हो गई थी जो मुर्त आज भी मंदीर के बाये बाजु पुर्व मे यथास्थित है, और मंदिर के अंदर पुजा के लीए दोहरी स्थापित की गयी हैं !

टपकेश्वरी आने पर एक हिमाचल या उत्तर भारत के गढवाल का सा, होने जैसा आनंद महसुस होता है तथा यह रमणीय स्थल है ऐसा भी कह सकते है !

छोटीसी गुफाऐं

छोटीसी गुफाऐं

टपकेश्वरी मंदिर के पास ही सेकडो वर्षो पुराने कमरे दर्शनार्थीयो के रहने के लीये उस समय के कला को दर्शाते है !
मंदिर उत्तर भाग को छोड तीन तरफ से ढक्के पहाडो के बीच मे बना हुआ है, पश्चिम तरफ मे ऊपर की और छोटीसी गुफाऐं है साथ ऊपर के लीये चडाव का रास्ता भी वही से जाता है !

Narayan Sarover

Narayan Sarover, originally uploaded by Lalwani Rajesh.

Temple at Narayan Sarover

कच्छ के वायव्य कोन में पश्चिम सीमा मे आया हुआ यह “नारायण सरोवर” तिर्थ एक प्राचिन स्थल है, यहां भारत के मसहुर सरोवरो मे से एक महान सरोवर था जो पुराणो मे नारायण सरोवर के नाम से जाना जाता था, श्री मद भागवत के अनुसार दक्ष प्रजापति के पुत्रो ने यहां तपस्या की थी, नारायण सरोवर गांव के नैत्रत्व मे भगवान आदि नारायण का मंदिर है जहां प्राचिन नारायण सरोवर के अवशेष डटे है एसा कहा जाता है!